शीघ्रपतन रोकने की जड़ी-बूटी, घरेलू दवा एवं औषधीय उपचार विधि

Sponsored

शीघ्रपतन की समस्या से शीघ्र पाएं छुटकारा

शीघ्रपतन: सेक्स क्रिया शरू करते ही वीर्य का पतन होना शीघ्रपतन कहलाता है। आज के समय लगभग 40% से भी ज्यादा लोग शीघ्रपतन से पीड़ित हैं सेक्स के मामले में यह शब्द वीर्य के स्खलन के लिए प्रयोग किया जाता है। पुरुष की इच्छा के विरुद्ध उसके वीर्य का अचानक पतन हो जाना, स्त्री के साथ संभोग शुरू करते ही वीर्य पतन हो जाए और पुरुष चाहकर भी अपने वीर्य को न रोक सके, सेक्स के चरम सीमा अधबीच में अचानक ही स्त्री को संतुष्टि व तृप्ति प्राप्त होने से पहले ही पुरुष का वीर्य पतन हो जाना, निकल जाना या झड़ जाना इस अवस्था को शीघ्रपतन कहते हैं। इस बीमारी का संबंध स्त्री से नहीं होता बल्कि पुरुष से ही होता है और यह समस्या सिर्फ पुरुष को ही होती है। शीघ्रपतन की सबसे खराब स्थिति तब होती है जब सम्भोग क्रिया शुरू होते ही या होने से ठीक पहले ही वीर्य का पतन हो जाता है। दोस्तों, लोग अक्सर जाना चाहते हैं कि सम्भोग की समयावधि कितनी होनी चाहिए यानी कितनी देर तक वीर्य का पतन नहीं होना चाहिए तो दोस्तों इसका कोई निश्चित समय नहीं है। यह आपके मानसिक एवं शारीरिक स्थिति पर निर्भर करता है कि आप अपने ध्यान को कितनी देर तक केंद्रित कर सकते हैं। सम्भोग क्रिया शुरू होने से 60 सैकंड के अंदर ही अगर किसी पुरूष का वीर्य पतन हो जाता है तो इसे शीघ्र-पतन (premature ejaculation) कहा जाता है। भय, डर, सुरछित न होना, छुपकर सेक्स करना, शारीरिक व मानसिक परेशानी भी इस समस्या का एक बहुत बड़ा कारण हो सकता है। स्खलन/शीघ्रपतन एवं यौन अक्षमता के कुछ कारण हैं जिसमें- तनाव, मनोवैज्ञानिक मुद्दे, हृदय रोग, दिल की धड़कन या अन्य चिकित्सीय स्थितियों में नशीली दवाओं के उपयोग, शराब का अधिक सेवन आदि शामिल हो सकते हैं। सेक्‍स के करते समय कुछ देर तक लंबी सांस जरूर लें। यह प्राक्रिया आपके सेक्स क्षमता में मदद करेगी और आप अपने साथी को पूर्ण रूप से संतुष्ट कर पाएंगे।

यहां पढ़ें- मासिक धर्म के बारें में-

दोस्तों सेक्स करते समय शरीर में अतिरिक्‍त ऊर्जा का आगमन होता है। दोस्तों आपको मालूम होना चाहिए कि एक बार के सेक्स करने पर आपके के शरीर से लगभग 400 से 500 तक कैलोरी ऊर्जा की खपत होती है। इसलिए अपनी ऊर्जा को बरकरार रखने के लिए आपको बीच-बीच में त्‍वरित ऊर्जा देने वाले तरल पदार्थ जैसे- दूध, बदंम, किसमिस, ग्लूकोज, और जूस, जैसे पदार्थ का सेवन करने से आपकी ऊर्जा बरक़रार बनी रहेगी साथ ही सेक्स क्षमता को बढ़वा मिलेगा। दोस्तों, सेक्स करते समय सबसे इम्पॉर्टन्ट बात यह है कि संभोग के दौरान इशारे में बात न करके सहज रूप से बात करें। यह आपके मानसिक और शारीरिक शक्ति को बढ़वा देता है।

आयुर्वेदिक औषधिजड़ी-बूटी इलाज

दोस्तों, जिस जड़ी बूटी से हम आपको अवगत करने जा रहे हैं उस जड़ी बूटी के प्रयोग से आप अपने शीघ्रपतन को 100% रोक सकते हैं और साथ ही अपने सेक्स क्षमता को भी बढ़वा दे सकते हैं:-

दोस्तों अपने अक्सर सुना होगा की शिलाजीत का प्रयोग ज्यादातर सर्दियों में किया जाता है। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है शिलाजीत का सेवन आप किसी भी मौसम में कर सकते हैं परन्तु उसके बतायेगे प्रयोग विधि के अनुसार आप उसका प्रयोग किसी भी मौसम में कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- सेक्स करने के फायदे और नुकसान

शिलाजीत प्रयोग विधि:- इसके लिए बिना मसाले वाली साइड की तीली को शिलाजीत में डुबोकर जितना आये उतना शिलाजीत सुबह शाम दूध के साथ लेते रहें ध्यान दें कि गर्मियों में इसका प्रयोग कम मात्रा में करना चाहिए।

भिंडी पाउडर: शीघ्रपतन की समस्या से शीघ्र छुटकारा पाने के लिए 10 ग्राम भिंडी पाउडर को एक गिलास दूध में मिलाकर सोने से एक घंटा पहले पीने से आप शीघ्रपतन की समस्या से निदान पा सकते हैं।

कच्चा लहसुन: पुरुषों में होने वाली यौन समस्या के देसी उपचार में कच्चा लहसुन भी काफी फायदेमंद है। प्रतिदिन 3 से 4 लहसुन की कलियां चबा कर खाये और इसके अलावा लहसुन की कलियों को गाय के देसी घी में फ्राई करके खाने से शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

शीघ्रपतन के मनोवैज्ञानिक कारण

मानसिक तनाव, (depression), रिश्तों से जुडी समस्याओं के कारण भी शीघ्रपतन हो सकता है।
जिन पुरुषों को स्तंभन दोष (Erectile disfunction) की समस्या होती है, उन्हें शीघ्रपतन की समस्या ज्यादा-ज्यादा होती है।
शीघ्रपतन का कारण कई लोगों में मानसिक तनाव के कारण होती है।
समय से पहले झड़ जाने के बारे में चिंता करना।
सेक्स जानकारी की शुरुआती स्थिति में भी शीघ्रपतन होता है।
सेक्स सम्बन्धित विचार प्रकट करने से भी शीघ्रपतन होता है।

मूसली पाउडर: शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए सफेद मूसली पाउडर को एक-एक चम्मच रोज दूध के साथ प्रयोग करने से वीर्य गाढ़ा होता है, और संभोग क्षमता में वृद्धि होती है। इस औषधि प्रयोग से शीघ्रपतन की समस्या खत्म होती है।

इलायची से शीघ्रपतन का इलाज: प्रतिदिन सुबह तीन छोटी इलायची चबाकर खांए और एक पका हुआ केला, 100 ग्राम खजूर खाकर मिश्री मिला हुआ गरम-गरम दूध पी लें। इस प्रयोग से आपके वीर्य की पूर्ण वृद्धि होगी तथा कामोत्तेजना उत्पन्न होगी।

अरंड तेल से शीघ्रपतन का उपचार: शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए लिंग के ऊपरी हिस्से में एरण्ड के तेल (Castrol Oil) से मालिश करने पर शीघ्रपतन की समस्या दूर होती है और साथ में सेक्स क्षमता में वृद्धि होती है तथा बेहतर परिणाम के लिए किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक से जरूर परामर्श ले लेनी चाहिए।

Latest सेक्स टिप्स…

शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए ऐसा कुछ आहार का प्रयोग करें जो शरीर में शीतल प्रभाव डालते हैं, उन पदार्थों को आहार में शामिल करें, जैसे-दूध, बादाम, किशमिश, काले चने, मुलेठी, इलायची आदि।

Sponsored

प्याज से शीघ्रपतन का इलाज: शीघ्रपतन की समस्या में प्याज का सेवन करना सबसे उत्तम माना जाता है। आपके घर में इस्तेमाल होने वाला सामान्य प्याज और हरा प्याज, दोनों ही शीघ्रपतन की रामबाण दवा है। खाना खाने से एक घंटे पहले एक गिलास या आधा गिलास पानी में हरे प्याज की एक चम्मच बीज घोलकर पीने से शरीर में ताकत आती है और आपकी सेक्स क्षमता को ताकत मिलती है। इसके अलावा कच्चाकच्ची प्याज भी खाना चाहिए।

तुलसी से शीघ्रपतन का उपचार: शीघ्र पतन में 5 ग्राम तुलसी की जड़ को पीसकर पान में रखकर चबाने से वीर्य की पुष्ट होती है और स्तम्भन शक्ति बढ़ती है। इसके अलावा तुलसी बीज या जड़ के चूर्ण को पुराने गुड़ के साथ मिलाकर इसे 3 ग्राम की मात्रा में प्रतिदिन दूध के साथ सेवन करने से पुरुष शक्ति में वृद्धि होती है।

उड़द की दाल से शीघ्रपतन का उपचार: उड़द की धुली हुई दाल को आधी कटोरी और पुराने चावल को आधी कटोरी एक साथ मिलाकर खिचड़ी बना लें अब इसका प्रयोग सुबह-शाम देसी घी डालकर अच्छे से चबा चबा कर खाएं और इसके अलावा एक गिलास गुनगुना मीठा दूध पी लें। इस प्रयोग को एक महीने तक करने से आप की समस्या दूर हो जाएगी।

दालचीनी से शीघ्रपतन का इलाज: दालचीनी अपने पेड़ की छाल होती है जिसे हम गरम मसाले के साथ उपयोग में लाते हैं आम तौर पर दालचीनी सर्दी जुकाम, गैस्ट्रिक, दस्त और जठरांत्र संबंधी समस्याओं के लिए प्रयोग करते हैं परन्तु इसके अलावा दालचीनी तेल को गलारे, लोशन साबुन, टूथपेस्ट, कॉस्मेटिक प्रोडक्ट और दवा उत्पादों में भी प्रयोग किया जाता है। दालचीनी की छाल मासिक धर्म में ऐंठन का इलाज करने के साथ ही शीघ्रपतन के लिए लाभदायक है।

जायफल से शीघ्रपतन का इलाज: जायफल में कामोद्दीपक गुण पाया जाता है जिसके कारण शीघ्रपतन की समस्या के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है अरब और मलेशिया जैसे देशों में इसके औषधीय गुणों को बहुत पसंद किया जाता है। जायफल बहोत सारी बिमारियों से मुक्ति दिलाती है जैसे अपच, दर्द, शीघ्रपतन, हमारे पूरे शरीर में खून का संचलन आदि शामिल है।

मुलेठी से शीघ्रपतन का उपचार: ज्यादातर लोग मुलेठी का इस्तेमाल खांसी-जुकाम या गले की खराश दूर करने के लिए प्रयोग करते हैं लेकिन आपको बता दूँ कि शीघ्रपतन के इलाज में भी मुलेठी काफी प्रयोग की जाती है। वैद्यो के अनुसार मुलेठी को वात-पित्त नाशक और शुक्रवर्धक माना गया है। मुलेठी का उपयोग शीघ्रपतन रोकने के घरेलू उपाय के रुप में किया जाता है। प्रतिदिन मुलेठी चूर्ण एक चम्मच दूध के साथ प्रयोग करने से शीघ्रपतन की समस्या से निदान पा सकते हैं। इसके अलावा शीघ्रपतन दूर करने के लिए रोजाना आधा चम्मच मुलेठी चूर्ण को दूध या शहद के साथ मिलाकर सेवन करने से शीघ्रपतन दूर होता है।

अदरक और शहद से शीघ्रपतन का इलाज: अदरक का प्रयोग अकसरतर खाद्य पदार्थों में लोकप्रिय माना जाता है। लेकिन अदरक का प्रयोग कुछ बेहद साधारण रोगों के लिए भी कर सकते हैं जैसे-डायरिया, गठिया, खांसी, जुकाम आदि शामिल हैं। अदरक का प्रयोग सेक्स सम्बन्धित जुड़ी के लिए किया जाता है जैसे शीघ्रपतन। इसके अलावा एक चम्मच अदरक को एक चम्मच शहद में मिलाकर प्रयोग करने से सेक्स क्षमता में वृद्धि होती है।

केसर से शीघ्रपतन का उपचार: शीघ्रपतन में केसर रूपी इस अद्भुत जड़ी बूटी का प्रयोग करने के लिए पानी में दस बादाम रातभर भिगो दें अगले दिन, बादाम को छीलकर उसमे गाय का दूध, केसर, अदरक, किसिमिश और इलायची मिलाकर अच्छी तरह मिक्स कर लें, अब इस मिश्रण को प्रतिदिन सुबह पीने से शीघ्रपतन की समस्या दूर होती है साथ ही सेक्स में वृद्धि होती है।

तरबूज से शीघ्रपतन का इलाज: शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा पाने के लिए तरबूज को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें. इन टुकड़ों पर हल्का अदरक के पाउडर और नमक छिड़क कर उपयोग करने से शीघ्रपतन और सेक्स में लाभदायक होता है।

कद्दू बीज से शीघ्रपतन का उपचार: कद्दू बीज में मैग्नीशियम गुण पाया जाता जो Testosterone को खून के प्रवाह तक पहुंचाने में मदद करता है कद्दू का प्रयोग करने से पहले अच्छी तरह साफ लें फिर इसे धुप में सूखा लें अच्छी तरह सूख जाने के बाद जैतून के तेल में भुनें और उसमें ऊपर से नमक और काली मिर्च डाललकर उपयोग करने से शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है।

कस्तूरी से शीघ्रपतन का इलाज: शीघ्र पतन के इलाज में कस्तुरी बहोत फायदेमंद होती है। इसका प्रयोग करने लिए एक बर्तन में पानी लेकर उसमें कस्तुरी को डालकर उसके सॉफ्ट होने तक उबालें उसके बाद दूध उबाल लें. जब दूध में उबाल आने लगे तो उसमें नमक, काली मिर्च और मक्खन मिला दें, इसके बाद ठंडा और पानी रहित मुलायम कस्तुरी इसमें मिलाकर पुनः उबालकर एक बार फिर से उबालें अब इसे ठंडा करके नियमित रूप से प्रयोग करने से शीघ्रपतन और सेक्स में लाभदायक होता है।

अश्वगंधा से शीघ्रपतन का उपचार: अश्वगंधा का उपयोग शीघ्रपतन, सेक्स वृद्धि पुरुष बांझपन, नपुंसकता के लिए किया जाता है। इसके अलावा अश्वगंधा तनाव, चिंता, अनिद्रा और हल्का ट्यूमर के विकास को भी दूर करता है। सेवन विधि: एक चम्मच अश्वगंधा की जड़ों को एक ग्लास दूध और एक चम्मच शहद के साथ मिलाकर प्रतिदिन उपयोग में लाना करना चाहिए।

खजूर से शीघ्रपतन का इलाज: खजूर का प्रयोग कई बिमारियों के लिए किया जाता है जैसे-हृदय, कब्ज, एनीमिया, दस्त और पेट के कैंसर जैसे कई स्वास्थ्य समस्याएं शामिल हैं। इसके अलावा खजूर का इस्तेमाल वज़न बढ़ाने के लिए भी किया जाता है।

ध्यान देने योग्य बातें-
दोस्तों, अगर ऊपर बताए गए किसी भी आयुर्वेदिक औषधीय सेवन के दौरान आपको किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो शीघ्र किसी नजदीकी डॉक्टर से परामर्श लें। दोस्तों, हमें यकीन है की शीघ्रपतन का इलाज पूरी तरह से इस जड़ी बूटी के प्रयोग से संभव है। परन्तु अगर आप शर्म और संकोच के कारण इसका इलाज समय पर नहीं करवाते हैं तो आगे चलकर आपकी समस्या जटिल हो सकती है।

Search Link: shighrapatan ki medicine, shighrapatan ki dawa, Treatment For Shighrapatan, Shighrapatan Ka Desi Ilaj, Premature Ejaculation, Common causes of this symptom, shighrapatan ka ilaj, shighra swakhlan, shighra jhad jana, jaldi jhad jana, astambhan dosh, sex, sexsi, xxx, shighrapatan rokane ke upay, sex kshmta badhane ke upay, shighrapatan ke karan lakshan dava, ilaj, sex ki vridhi hetu, gharelu upchar, Shighrapatan Treatment in hindi. sex tips, sex karne ke tarike, sambhog kriya, kya hota hai shighrapatan, what is Premature Ejaculation in hindi. shighrapatan ka nivaran, swakhalan ka ilaj, shighrapatan ki deshi dava evam aushadhiy jadi buti dwara treatment in hindi.

 

Sponsored

Reply

Don`t copy text!